सुपर कप : चेन्नइयन एफसी को 2-1 से हराकर गोवा ने जीता खिताब

खेल

भुवनेश्वर। एफसी गोवा ने शनिवार को कलिंगा स्टेडियम में खेले गए फाइनल मैच में चेन्नइयन एफसी को 2-1 से मात दे सुपर कप का खिताब अपने नाम कर लिया। एफसी गोवा का यह पहला खिताब है। इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) का यह क्लब 2014 में बना था लेकिन तब से इसे एक भी खिताबी जीत नहीं मिली थी। गोवा के लिए ब्रेंडन फर्नांडेज ने 64वें मिनट और फेरान कोरोमिनास ने 51वें मिनट में गोल किए। चेन्नइयन के लिए राफेल अगस्तो ने 54वें मिनट में गोल किया। पहले हाफ में दोनों टीमों की तमाम कोशिशों के बाद भी गोल नहीं हो सका, लेकिन दूसरे हाफ में 15 मिनट के भीतर तीन गोल ने सुपर कप का विजेता तय कर दिया। पहले हाफ में चेन्नइयन ने शुरुआती कुछ मिनटों में मौके बनाए लेकिन गोवा के डिफेंस और गोलकीपर ने इसे सफल नहीं होने दिया। गोवा भी गोल करने की कोशिश में जूझती रही। दूसरे हाफ में हालांकि गोवा के स्टार कोरोमिनास ने बेहतरीन गोल कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया। चेन्नइयन के अनिरुद्ध थापा की गलती से गेंद कोरोमिनास के पास आई। उन्होंने बाउमाउस को गेंद दी। बाउमाउस ने थोड़ी देर बाद गेंद वापस कोरोमिनास के दी जिन्होंने इसे नेट में डाल दिया। गोवा की यह बढ़त ज्यादा देर तक कायम नहीं रह पाई क्योंकि अगस्तो ने चेन्नइयन के लिए गोल कर दिया था। 54वें मिनट में चेन्नइयन को फ्री किक मिली जिसे फर्नाडेज ने ली और सी.की. विनीत के पास भेज दिया। जहां से गेंद अगस्तो के पास आई। अगस्तो ने गोल करने का मौका नहीं गंवाया। बराबरी का स्कोर बोर्ड ज्यादा देर नहीं रह सका। 64वें मिनट में कोरोमिनास ने गेंद फर्नाडेज को दी। इस विंगर ने गेंद लेकर पोस्ट की तरफ दौड़ लगाई और गेंद को नेट में डाल गोवा को एक बार फिर एक गोल की बढ़त दिला दी। गोवा ने किसी तरह अपनी इस बढ़त को कायम रखा और अपना पहला खिताब जीता।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *