आतंकियों का सम्मान करने वालों को जनता करेगी बेनकाब: भाजपा

राजनीति

लखनऊ। भाजपा ने कहा है कि विपक्षी दल पहले सेना, शहीदों व उनके परिजनों का अपमान करते हैं, तथा कुछ नेता अपने बयानों से आतंकवादी ताकतों को बल देते हैं। फिर आतंकवादियों के प्रति सम्मान सूचक संबोधन कर शहीदों का अपमान करते हैं। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने बयान में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय सेना से सर्जिकल स्ट्राइक व एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने और सीआरपीएफ के 44 बहादुर जवानों को शहादत के लिए जिम्मेदार आतंकवादी अजहर मसूद को सम्मानजनक संबोधन कर शहीदों के परिजनों की घाव पर नमक छिड़कने का कार्य किया है। सपा के नेता भी दुनिया के सर्वश्रेष्ठ वायुसैनिकों द्वारा आतंकवाद के संरक्षक पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों के शिविरों पर किये गये एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाते हैं। अब ये लोग किस मुंह से शहीदों की बात करते हैं? उन्होंने कहा कि देश की जनता इनके मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी और समाज व देश की एकता व अखंडता के लिये इनकी कारस्तानियों को उजागर करेगी। जनता बतायेगी कि किस तरह कांग्रेस व कुछ दलों आतंकवादियों के प्रति लचर रूख रखते हैं। प्रवक्ता ने कहा कि जनता यह भी जानना है कि बाटला हाउस मुठभेड़ में मारे गये आतंकवादी की मौत पर आंसू बहाकर शहीद इंस्पेक्टर मोहन शर्मा की शहादत का अपमान करने वाली कांग्रेस की तत्कालीन अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में विपक्ष के नेताओं की भूमिका क्या थी? और कांग्रेसराज में किस तरह धड़ल्ले से आतंकवादियों को छोड़ा गया था। सपा व बसपा गठबंधन को भी बेनकाब करते हुए जनता को इस सच से रूबरू कराया जाएगा कि अखिलेश यादव की सरकार ने आतंकवादियों को जेल से छोडऩे का आदेश जारी किया था, जिस पर उच्च न्यायालय ने फटकार लगाते हुये ये आदेश रद्द कर दिया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *