खेल से होता है टीम भावना का निर्माण: महापौर

उत्तर प्रदेश देश लखनऊ

बच्चों को टीवी और मोबाइल गेम से दूर रहने की सलाह
गोमती आवाज ब्यूरो
लखनऊ। डीएवी पीजी कॉलेज में आयोजित दस दिवसीय अन्तर-विद्यालयीय ‘युवा खेल महोत्सव 2019 का सोमवार को समापन हुआ। इस मौके पर महापौर संयुक्ता भाटिया बतौर मुख्य अतिथि शिरकत कीं। कार्यक्रम में मेधावियों को पुरस्कृत भी किया गया। विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए महापौर ने कहा कि खेल सेे बच्चों में टीम भावना का निर्माण होता है। बच्चों को खेल के मैदान में उतारना चाहिए। इतिहास में देखने को मिलता है कि कैसे खेल-खेल में ही शिवाजी ने इतनी बड़ी सेना खड़ी कर मुगल साम्राज्य के खिलाफ बिगुल फूंक दिया और हिंदवी स्वराज की स्थापना कर दी थी। महापौर ने खेलों का महत्व बताते हुए कहा कि खेलते वक्त जब मातृभूमि का स्पर्श होता है, तब बच्चे में राष्ट्रभाव का जागरण स्वत: ही हो जाता है। अभिभावकों से महापौर ने की अपील, बच्चों को खेलने भेजें : इस अवसर पर महापौर ने अभिभावकों से अपील की कि अपने बच्चों को टीवी और मोबाइल गेम से दूर रहने की सलाह दीजिये और मैदान में जाकर खेल खेलेने के लिए आग्रह करिये। वहीं, उन्होंने कहा कि अगर आपके आसपास व्यवस्थित खेल मैदान नहीं है तो मुझे अवगत कराइये। मैं पार्क को खेलने लायक व्यवस्थित करवाउंगी। विजेताओं को मिला पुरुस्कार : खो-खो प्रतियोगिता में लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज ने प्रथम व श्री जय नारायन पीजी कॉलेज ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। कबड्डी (पुरुष वर्ग) में श्री जय नारायन पीजी कॉलेज ने प्रथम व लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज ने द्वितीय व कबड्डी (महिला वर्ग) में लियो क्लब ने प्रथम व श्री जय नारायन पीजी कॉलेज ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। वहीं, वॉलीबल (पुरुष वर्ग) में नेशनल पीजी कॉलेज ने प्रथम व लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज को द्वितीय व वॉलीबॉल (महिला वर्ग) में लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज को प्रथम व श्री जय नारायन पीजी कॉलेज को द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ। शतरंज की प्रतियोगिता के पुरुष वर्ग में आदित्य मिश्रा (लखनऊ विश्वविद्यालय), हर्ष कुमार (केकेसी), अनवर मोहम्मद (बीएसएनवी) व महिला वर्ग में आयशा वहीद (लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज), प्रेरणा द्विवेदी (डीएवी), ज्योति यादव (लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज) को क्रमश: प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। खेलों में भारत का भविष्य विषय पर आयोजित भाषण प्रतियोगिता में आदित्य मिश्रा (लखनऊ विश्वविद्यालय) को प्रथम, आदित्य सिंह (डीएवी) को द्वितीय एवं मनीष कुमार सिंह (लखनऊ क्रिस्चियन कॉलेज) को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *