कांग्रेस के लिए मंदिर और धर्म सिर्फ चुनावी मुद्दे: राजनाथ

बड़ी खबरें

गोमती आवाज ब्यूरो
लखनऊ। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का कहना है कि चुनाव आने पर कांग्रेस के लोग मंदिर पहुंच जाते हैं। चुनावों से पहले मंदिर में पूजा करते वह नहीं दिखते। कांग्रेस के लिए मंदिर और गाय सिर्फ चुनावी मुद्दा हो सकता है, लेकिन भाजपा के लिए मंदिर चुनावी मुद्दा नहीं है। यह हमारी संस्कृति का अभिन्न अंग है। श्री सिंह रविवार को मीडिया सेंटर में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने सवाल किया कि अगर मनमोहन सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक की थी तो उसकी जानकारी अब तक छुपाकर रखने का काम क्यों किया। सैनिकों के शौर्य और पराक्रम को छुपाना नहीं चाहिए। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि किसी भी पार्टी को चुनाव सामाजिक सामंजस्य को ध्यान में रखकर लडऩा चाहिए, मगर कांग्रेस सामाजिक समरसता को न सिर्फ तोडऩे का बल्कि तार-तार करने का काम करती है। पांच राज्यों में जीत के लिए आश्वस्त राजनाथ ने कहा कि सभी जगह कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो रहा है। भाजपा सरकार सत्ता में आ रही है। नक्सलवाद को लेकर उन्होंने कहा कि आगामी तीन से पांच सालों में यह समाप्त हो जाएगा। बीते चार सालों में नक्सली घटनाओं में 50 से 60 फीसदी की कमी हुई है। नक्सलवाद अब सिर्फ आठ से नौ जिलों में शेष है। उन्होंने कहा कि हमें किसी विचार से परेशानी नहीं है, लेकिन हिंसा नहीं होनी चाहिए। उन्होंने आतंकवाद पर कहा कि बीते चार से पांच सालों में आतंकवाद पर शिकंजा कसा गया है। अब आतंकवाद कश्मीर से बाहर पैर नहीं पसार पा रहा है। हर जगह स्थिति में सुधार हो रहा है। उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए कहा कि कश्मीर मुद्दा नहीं है। कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। इसमें कोई शंका नहीं है। पाकिस्तान से असल मुद्दा आतंकवाद है। अगर पाकिस्तान चाहता है तो भारत से आतंकवाद पर बातचीत कर सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *