केशव बोले, 2019 में वोटों की गिनती शुरू होते ही कोमा में चले जाएंगे महागठबंधन के नेता

उत्तर प्रदेश देश लखनऊ

पिता ने अयोध्या में गोली चलवाई तो बेटे को अब याद आ रहे राम और कृष्ण
गोमती आवाज ब्यूरो
कानपुर। भाजपा की केन्द्र और राज्यों की सरकारों द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों से जनता का रूझान पिछले लोकसभा की अपेक्षा अधिक बढ़ा हुआ है। जिससे यह तय हैं कि आगामी लोकसभा चुनाव में एक बार भाजपा की भारी जीत होगी और केन्द्र में मोदी जी के नेतृत्व में सरकार बनेगी। तो दूसरी तरफ सत्ता का ख्वाब देख रहे महागठबंधन के नेता जनता के रूख को देखते हुए आईसीयू में चले गये हैं। यही नहीं 2019 में जब वोटों की गिनती शुरू होगी तो यह लोग कोमा में चले जाएंगे।
यह बातें शुक्रवार को कानपुर में मीडिया से मुखाबित होते हुए प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहीं। केशव प्रसाद मौर्या आज कानपुर पहुंचे और समन्वय समिति के पदधिकारियों के साथ आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर मंथन किया। इस दौरान उन्होंने पदाधिकारियों से कहा कि अभी से चुनाव के लिए जुट जाएं और हर हाल में बूथ स्तर पूरी तरह से मजबूत होना चाहिये। साथ ही एमएसएमई के कार्यक्रम में भी हिस्सा लिये। इसके बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए महागठबंधन के नेताओं पर जमकर निशाना साधा। कहा, महागठबंधन की कभी कोई नुमाइंदी करने लगता है तो कभी कोई करने लगता है। अब तो यह भी पता चल रहा है कि दक्षिण से नुमाइंदगी होने लगी है। लेकिन आगामी लोकसभा चुनाव आते-आते महागठबंधन में सिर्फ नेता ही बचेगें क्योंकि जनता तो पहले से ही भाजपा के पक्ष में मतदान करने का मन बना चुकी है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है और देश के 70 प्रतिशत हिस्से में उनकी राज्य की सरकारें है और केंद्र में भी सरकार है जो बराबर जनता के हितों को देखते हुए विकास कार्य कर रही हैं। कहा, 2019 में फिर से सरकार बनाने के लिए कार्यकर्ता उत्साहित हैं। जिसमें 2019 की तैयारियों को लेकर 17 नवम्बर को पूरे 80 संसदीय क्षेत्रों में कमल सन्देश यात्रा निकली जायेगी। इस यात्रा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष समेत बूथ के पांच कार्यकर्ता मोटर साइकिल से निकलेगें। वहीं राम मंदिर पर सांसद राकेश सिन्हा द्वारा पेश किये गए प्राइवेट बिल का समर्थन करते हुए राहुल गांधी, अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव पर जमकर साधा निशाना। कहा, यह लोग कभी भी नहीं चाहे कि राम मंदिर बने और बराबर रोड़ा अटकाते आ रहे हैं। राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इसी के चलते जनता ने इन्हे सबक सिखाया है और अब हताश होकर मंदिर-मंदिर जा रहे हैं। अखिलेश पर भी तंज कसा और कहा कि मुलायम सिंह यादव ने अयोध्या में गोली चलवाई और बेटा अखिलेश जनता के मूड को भांपते हुए अयोध्या गये, अब तो इन्हे राम और कृष्ण भी याद आने लगे हैं और यह भी कह रहे हैं कि विष्णु मंदिर बने। कहा, यह लोग न राम के हैं और न ही जनता के, इन्हे सिर्फ सत्ता से मतलब है, पर जनता सब कुछ जान चुकी है और इन्हे कोमा में पहुंचाने की तैयारी कर दी है। इस दौरान विधायक महेश त्रिवेदी, जिलाध्यक्ष उत्तर सुरेन्द्र मैथानी आदि लोग मौजूद रहे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *