पाकिस्तान के स्पिनर अब्दुर रहमान ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से लिया संन्यास

खेल

नई दिल्ली। पाकिस्तान के लेफ्ट ऑर्म स्पिनर अब्दुर रहमान ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है। हालांकि वो घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे। 38 वर्षीय इस खिलाड़ी ने 2011 विश्व कप में भी हिस्सा लिया था, हालांकि नॉकआउट मैचों के बाद उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला था। रहमान 2014 से ही पाकिस्तान की टीम का हिस्सा नहीं थे। रहमान ने पाकिस्तान के लिए 22 टेस्ट, 31 वनडे और 8 टी-20 मैच खेले, लेकिन मजेदार बात ये है कि उन्होंने टीम इंडिया के खिलाफ न तो एक भी टेस्ट मैच खेला और न ही कोई टी-20। रहमान ने अपने पूरे इंटरनेशनल करियर में भारत के खिलाफ सिर्फ दो वनडे मैच खेले और इन दो वनडे मैचों में उन्होंने तीन भारतीय बल्लेबाज़ों का शिकार किया।
भले ही रहमान ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया हो, लेकिन वो घरेलू क्रिकेट खेलते रहेंगे। उनके डोमेस्टिक क्रिकेट में तीनों फॉर्मेट में कुल मिलाकर 900 से ज्यादा विकेट हैं। अब्दुर रहमान ने अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू साल 2006 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे मैच से किया था। वहीं 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उन्होंने अपना टेस्ट डेब्यू किया था। अपने डेब्यू मैच में उन्होंने 2 बार 4 विकेट लिए थे और इस सीरीज में वो पाकिस्तान की तरफ से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। हालांकि उसके बाद उन्हें टेस्ट मैच खेलने के लिए 3 साल का इंतजार करना पड़ा था। 2010 में एक बार फिर उनकी टेस्ट टीम में वापसी हुई। उसके बाद 2014 तक वो लगातार टीम का हिस्सा रहे। 2014 में श्रीलंका के खिलाफ सीरीज के बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। रहमान ने 2011 विश्व कप में भी हिस्सा लिया था, हालांकि नॉकआउट मैचों के बाद उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला था। रहमान ने 2012 में इंग्लैंड के खिलाफ यूएई में हुए सीरीज में जबरदस्त प्रदर्शन किया था और 19 विकेट चटकाए थे। इसी का नतीजा था कि पाकिस्तान ने उस सीरीज में इंग्लैंड को व्हाइटवॉश कर दिया था। पाकिस्तान के लिए 22 टेस्ट मैच खेले जिसमें 99 विकेट चटकाए, वहीं 31 वनडे मैचों में 30 विकेट उन्होंने लिए। जबकि 8 टी-20 मैचों में उनके नाम 11 विकेट दर्ज हैं। रहमान ने अपना आखिरी टी-20 मैच नवंबर 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। अब्दुर रहमान का टेस्ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन 25 रन देकर 6 विकेट है। जबकि वनडे क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 48 रन देकर 4 विकेट है। टी-20 में उनका बेस्ट प्रदर्शन 7 रन देकर 2 विकेट है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *