न्यू फरक्का एक्सप्रेस की बोगिया पटरी से उतरी, 9 लोगों की मौत

बड़ी खबरें

गोमती आवाज ब्यूरो
रायबरेली। रायबरेली के पास हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के आउटर पर बुधवार सुबह करीब 6 बजे मालदा टाउन से नई दिल्ली जा रही 14003 न्यू फरक्का एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई। ट्रेन की इंजन सहित 9 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस भयानक हादसे में अभी तक नौ लोगों की मौत हो गई, जबकि 50 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। ट्रेन का इंजन और उससे लगे 3 जनरल कोच एक-एक कर पलट गए। वहीं इसके पीछे लगे स्लीपर कोच एस 7, एस 8, एस 9, एस10 और एस 11 पटरी से उतर गए। हादसे के वक्त सारे यात्री नींद में थे। यात्रियों ने बताया कि ऐसा लगा की ट्रेन में जोरदार धमाका हुआ और ट्रेन की बोगियां पलटने लगी। बेगी पलटते ही यात्री की नींद खुल गई और चीख-पुकार मच गई। आसपास के गांवों के सैकड़ों लोग एकत्र हो गए। स्थानीय लोगों ने बोगियों में फंसे लोगों को निकालने में मदद की। स्थानीय राहुल तिवारी ने बताया कि लगभग सभी लोग सो नींद में थे। लेकिन अचानक बोगियों में हरकत हुई तो लोग एक-दूसरे पर गिरने लगे। ट्रेन की कई बोगियां पटरी से उतर गई थी। हादसे की आवाज से आसपास गांव के लोगों की भी नींद खुली गई मदद के लिए तुरंत घटनास्थल पर आ गए। मदद के लिए आठ किमी दूर से भी लोग मौके पर पहुंचे। वहीं एक और यात्रि आरबी बताते हैं कि वह स्लीपर क्लास में गेट पर खड़े थे। ट्रेन की स्पीड ज्यादा भी नहीं थी। अचानक बोगियां पलटने लगी। मैंने संभलने की कोशिश की। लेकिन मेरे ऊपर लोग गिरने लगे। कूदकर भागा और एंबुलेंस को फोन किया। आरबी बताते हैं कि वे त्रिवेणी ट्रेन से जाने वाले थे। लेकिन वह तीन घंटे लेट थी। इसलिए फरक्का पकड़ी थी।
स्टेशन मास्टर को किया सस्पेंड
पश्चिम बंगाल के मालदा टाउन से चलकर दिल्ली आ रही 14003 न्यू फरक्का एक्सप्रेस सुबह करीब 6 बजे हादसे का शिकार हो गई। बताया जा रहा है कि हरचंदपुर स्टेशन के असिस्टेंट स्टेशन मास्टर ने ट्रेन को पास होने के लिए ग्रीन सिग्नल तो दे दिया, लेकिन पटरियां नहीं जोड़ी। जिससे ट्रेन हादसे का शिकार हो गई। रेलवे अधिकारी ने हरचंदपुर के असिस्टेंट स्टेशन मास्टर आशीष कुमार को प्रथम दृष्टया में दोषी पाते हुए निलंबित कर दिया है।
हरचंदपुर रेलवे स्टेशन का रिप्ले रूम किया सील
रेल हादसे के वास्तविक कारणों को पता लगाने के लिए हरचंदपुर के स्टेशन अधीक्षक ने रेलवे स्टेशन का रिप्ले रूम सील कर दिया है। सूत्रों के अनुसार हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के रायबरेली की तरफ के आउटर पर रिपेयरिंग का काम चल रहा था। इसी आउटर पर पटरियों को आपस में जोडऩे लापरवाही की बात सामने आ रही है। स्टेशन यार्ड में हादसा होने के कारण इसके लिए पूरी तरह से रेलवे का सिग्नल एवं ऑपरेटिंग डिपार्टमेंट दोषी माना जा रहा है। इसीलिए उच्चाधिकारियों के निर्देश पर स्टेशन अधीक्षक ने रिप्ले रूम सील कर दिया है ताकि इससे कोई छेड़छाड़ न कर सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *